निलंबित होने के बाद बोले संजय झा- कांग्रेस की विचारधारा के प्रति वफादार, किसी परिवार के प्रति नहीं है निष्ठा

Sanjay Jha Image Source : PTI

सचिन पायलट का समर्थन करने के चलते कांग्रेस से निलंबित होने वाले संजय झा ने गांधी परिवार पर जबर्दस्त हमला बोला है। संजय झा ने कहा कि वे कांग्रेस की विचार धारा के प्रति ​वफादार हैं, लेकिन किसी परिवार के प्रति उनकी कोई निष्ठा नहीं है। बता दें कि संजय झा ने सचिन पायलट के पक्ष में कई ट्वीट किए थे, जिसके बाद कल दोपहर पार्टी ने संजय झा को निलंबित कर दिया था। कांग्रेस पार्टी द्वारा जारी की गई प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि संजय झा को पार्टी विरोधी गतिविधियों और अनुशासन तोड़ने के लिए निलंबित किया जाता है।

अपने निलंबन के बाद और मुखर होकर संजय झा ने कहा कि मैं आगे भी गांधी नेहरू विचारधारा का समर्थक रहूंगा। हालांकि यह विचारधारा खुद कांग्रेस के भीतर ही लुप्तप्राय हो चली है। उन्होंने कहा कि मैं आगे भी उन मुद्दों को उठाता रहूंगा जो पार्टी में बदलाव के लिए जरूरी हैं। अपने ट्वीट के आखिर में संजय झा लिखते हैं लड़ाई अभी शुरू हुई है।

सचिन पायलट के लिए किए ट्वीट

राजस्थान में खड़े हुए सियासी संकट के बाद से सजंय झा सचिन पायलट के पक्ष में कई ट्वीट कर चुके हैं। उन्होंने कल सुबह ही लिखा था, "साल 2013 से साल 2018 के बीच सचिन पायलट ने कांग्रेस पार्टी को खून, आंसू, मेहनत, पसीना दिया। कांग्रेस पार्टी भी 21 सीटों से 100 सीटों पर पहुंच गई। इसके लिए हमने उन्हें सिर्फ performance bonus दिया। हम इतने गुणी हैं। हम इतने पारदर्शी हैं।" इससे पहले एक ट्वीट में उन्होंने पूछा, "पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया, फिर सचिन पायलट, अब अगला कौन"

एक अन्य ट्वीट में संजय झा ने कांग्रेस पार्टी और अशोक गहलोत पर निशाना साधते हुए कहा कि एकमात्र तरीका जिसके जरिए राजनीतिक दल आगे चलते रहेंगे और बढ़ते रहेंगे कि वो जब ग्रोथ का एकमात्र मापदंड प्रदर्शन और रिजल्ट होगा। साल 2013 में कांग्रेस सीएम गहलोत ने सबसे कम 21 सीटें दीं। उन्हें साल 2018 में अवार्ड के रूप में सीएम पद दिया गया। तीसरी बार. साल 2019 लोकसभा में उन्होंने पार्टी को शून्य सीटें दी। क्या ये सही है?



from India TV Hindi: india Feed https://ift.tt/3h0VLAi

Post a comment

0 Comments