केरल: वायलिन वादक की मौत की जांच CBI ने संभाली, 2018 में हुई थी बालभास्कर और उनकी बेटी का एक्सीडेंट

CBI Image Source : FILE

नयी दिल्ली। केरल के प्रसिद्ध वायलिन वादक बालभास्कर और उनकी बेटी की वर्ष 2018 में सड़क हादसे में हुई मौत की जांच सीबीआई ने अपने हाथ में ली है। अधिकारियों ने बताया कि उनके परिवार ने आरोप लगाया कि इस मामले के आरोपी का संबंधी सोने की तस्करी से है। उल्लेखनीय है कि 25 सितंबर 2018 को तड़के चार बजकर 15 मिनट पर बालभास्कर की कार पल्लीपुरम में राष्ट्रीय राजमार्ग 66 पर सीआरपीएफ कैंप के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई। 

वायलिन वादक तब पत्नी लक्ष्मी और 18 माह की बेटी तेजस्विनी के साथ त्रिशूर स्थित मंदिर से दर्शन कर लौट रहे थे। स्थानीय लोग और पुलिस घायल बालभास्कर, लक्ष्मी और कार चालक अर्जुन को तिरुवनंतपुरम मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले गए। जबकि तेजस्विनी को अनंतपुरी अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल ने तेजस्विनी को मृत लाया गया घोषित कर दिया, जबकि बालभास्कर की दो अक्टूबर को मौत हो गई थी। पिछले साल बालभास्कर के पिता उन्नी ने केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन से मुलाकात की थी और अपने बेटे तथा पोती तेजस्विनी की मौत की सीबीआई जांच की मांग की थी। 

उन्नी ने आरोप लगाया कि उनके बेटे की मौत के पीछे साजिश है। उन्होंने तिरुवनंतपुरम में मीडिया से कहा था, ‘‘मुझे लगता है कि यह दुर्घटना सोची समझी साजिश के तहत हुई।’’ बालभास्कर के करीबी सहयोगी प्रकाश थंपी को राजस्व खुफिया निदेशालय ने सोना तस्करी मामले में गिरफ्तार किया था और ड्राइवर अर्जुन ने कहा था कि बालभास्कर कार चला रहे थे। हालांकि पुलिस जांच में पता चला कि अर्जुन कार चला रहा था। प्रक्रिया के तहत केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने इस घटना के सिलसिले में लापरवाही से कार चलाने के मामले की जांच अपने हाथ में ले ली। केरल पुलिस ने इस बारे में एक प्राथमिकी दर्ज की थी। इस मामले में बालभास्कर के वाहन चालक अर्जुन का नाम आरोपी के तौर पर दर्ज है।



from India TV Hindi: india Feed https://ift.tt/30cqlRH

Post a comment

0 Comments