प्रेम में बाधा बन रही छोटी बहन को बड़ी बहन और उसके प्रेमी ने मिलकर गला दबाकर की हत्या

प्रेम में बाधा बन रही छोटी बहन को बड़ी बहन और उसके प्रेमी ने मिलकर गला दबाकर की हत्या
 लाश को रेलवे लाइन की पटरी पर रख दिया ताकि लगे हत्या नहीं हादसा है

*थाना पड़री में हुई हत्या का पुलिस ने 09 घण्टे भीतर किया अनावरण —*
 मिर्जापुर ज्ञातव्य हो कि दिनांक 01.10.2020 को समय करीब 14.00 बजे थाना पड़री क्षेत्रान्तर्गत ग्राम भरूहिया निवासी दिलीप सिंह की दो पुत्रियां अंजली उम्र करीब 15 वर्षीय व नन्दनी उम्र करीब 11 वर्षीय जो घर से साइकिल से बाजार सब्जी लेने व साइकिल की मरम्मत कराने निकली थी वापस घर नही आयी । उक्त के सम्बन्ध में दीलीप सिंह द्वारा थाना स्थानीय पर तहरीर दी गयी, प्राप्त तहरीर के आधार पर थाना पड़री पर मु0अ0सं0-165/2020 धारा 363 भा0द0वि0 पंजीकृत किया गया । तत्पश्चात् पुलिस द्वारा वृहद स्तर खोजबीन तथा तलाश के बाद रात्रि में अंजली को सकुशल बरामद कर लिया गया तथा दूसरी पुत्री की बरामदगी हेतु पुलिस प्रयासरत थी कि आज दिनांक 02.10.2020 को समय करीब 08.15 बजे थाना प्रभारी पड़री को धौरा रेलवे क्रासिंग के पास एक अज्ञात लड़की का शव होने की सूचना प्राप्त हुई । उक्त सूचना पर थाना प्रभारी पड़री मय पुलिस बल मौके पर पहुंचे, शव का शिनाख्त दिलीप की छोटी पुत्री नन्दनी के रूप में हुई है । 


*विवरण जांच एवं पूछताछ—*
 पुलिस द्वारा घटना के पहलुओं के बारें में जांच की गयी तो ज्ञात हुआ कि दिलीप की बड़ी लड़की अंजली का विगत् 02 वर्षों से उसी के गांव के प्रमोद बिन्द पुत्र रामलाल बिन्द के साथ प्रेम-प्रसंग चल रहा था । दिनांक 01.10.2020 को घर से साइकिल बनवाने के बहाने अंजली व नन्दनी निकली जो साइकिल को नटवा के डेरा के पास खड़ी कर प्रमोद के साथ मोटर साइकिल पर बैठकर तीनों मीरजापुर आये, शास्त्री पुल, कचहरी भ्रमण कर होटल पर खाना खाए व कपड़ो की खरीददारी कियें तत्पश्चात् देर रात्रि वापस धौरा स्थित रेलवे लाइन पहुंचे और छोटी बहन नन्दनी को नींद आ गयी । जिसका फायदा उठाकर अंजली व प्रमोद ने मिलकर नन्दनी का गला दबाकर हत्या कर दी एवं शव को ठिकाने लगाते हुए रेलवे पटरी पर रख दिया ताकि किसी को उस पर शक न हो । अंजली द्वारा बताया गया कि मेरे माता पिता द्वारा मेरे साथ सौतेला व्यवहार किया जाता था तथा नन्दनी को ज्यादा प्यार दुलार दिया जाता था और वह हमारे प्रेम संबंध के बीच भी बाधा उत्पन्न कर रही थी ।

*नाम पता गिरफ्तार अभियुक्तगण—*
1. प्रमोद बिन्द पुत्र राम लाल बिन्द निवासी भरूहिया थाना पड़री जनपद मीरजापुर ।
2. अंजली सिंह पुत्री दिलीप सिंह निवासी भरूहिया थाना पड़री जनपद मीरजापुर ।
*गिरफ्तारी/बरामदगी करने वाली पुलिस टीम—*
1. प्र0नि0 वेंकटेश तिवारी थाना पड़री मीरजापुर ।
2. उ0नि0 संजय यादव चौकी प्रभारी पैड़ापुर थाना पड़री मीरजापुर ।
3. उ0नि0 मो0 मेराज खाँ थाना पड़री मीरजापुर ।
4. हे0का0 प्रदीप पाण्डेय थाना पड़री मीरजापुर ।
5. का0 राजकुमार सिंह थाना पड़री मीरजापुर ।
6. का0 संतोष कुमार थाना पड़री मीरजापुर ।
7. कां0 भगवान दास यादव थाना पड़री मीरजापुर ।
8. कां0 संजय सिंह थाना पड़री मीरजापुर ।
*नोट—* उक्त घटना का 09 घण्टे के अन्दर अनावरण करते हुए गुमशुदा की बरामदगी व अभियुक्तगण की गिरफ्तारी करने वाली पुलिस टीम को *पुलिस महानिरीक्षक विन्ध्याचल परिक्षेत्र मीरजापुर द्वारा ₹ 25000/-* के पुरस्कार से पुरस्कृत करने की घोषणा की गयी ।

Post a comment

0 Comments