विद्युत कर्मियों की हड़ताल का असर ग्रामीण क्षेत्रों में एक दिन पहले से ही दिखा और आपूर्ति बाधित : आजमगढ़ समाचार

Kvs24न्यूज संवाददाता, आजमगढ़ : विद्युत कर्मियों की हड़ताल का असर ग्रामीण क्षेत्रों में एक दिन पहले से ही दिखा और आपूर्ति बाधित कर दी गई। 


ग्रामीणों के आक्रोश को ध्यान में रखकर सब स्टेशनों पर पुलिस की तैनाती कर दी गई। ग्रामीण क्षेत्र के लोगों के सामने सबसे बड़ी समस्या मोबाइल चार्ज करने को लेकर रही। पानी की समस्या शहर से कम रही, क्योंकि जगह-जगह हैंडपंप से काम चल गया। हड़ताल के दौरान निर्बाध विद्युत आपूर्ति करने की प्रशासनिक तैयारी धरी की धरी रह गई। सवाल तो यह उठने लगा है कि आखिर एक दिन पहले ही जगह-जगह आपूर्ति कैसे बाधित हो गई।

*नंदाव* : रविवार को दिन में तीन बजे से ही आपूर्ति बंद हो गई। ऑनलाइन शिक्षा ग्रहण करने वाले हाथ पर हाथ धरे बैठे रहे। *दीदारगंज* : रविवार की रात नौ बजे से ही पूरा क्षेत्र की बिजली गुल हो गई। *सरायमीर* : रात से ही कस्बा सहित पूरा क्षेत्र अंधेरे में डूबा रहा। विद्युत उपकेंद्र पर रात्रि से ही एक दरोगा व चार पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है।

*बिलारमऊ* : एक दिन पहले से ही आपूर्ति बंद होने से उपभोक्ता परेशान रहे। मोबाइल चार्ज न होने से ऑनलाइन पढ़ाई भी बाधित हो रही है। मेंहनगर में एक दिन पहले ही रात से बिलली गुल होने से बीएसएनएल का टावर बेकाम का रहा। *मुबारकपुर* : क्षेत्र में सोमवार की भोर से आपूर्ति बाधित होने से हथकरघा, पावरलूम नहीं चले। भीरा : बिजली आपूर्ति रविवार दोपहर से ही पूर्णता बाधित है। *निजामाबाद* : क्षेत्र में रात लगभग 12 बजे से ही आपूर्ति बंद कर दी गई। *संजरपुर* : रविवार को सुबह 11 बजे से विद्युत सप्लाई बंद कर दी गई। *अजमतगढ़* : जीयनपुर पूरे क्षेत्र में रात 12 बजे से गई बिजली नहीं आई। माहुल : बिजली के अभाव में कस्बे के लोग पानी के लिए परेशान नजर आए। सुबह 10 बजे उपकेंद्र पहुंचे उपजिलाधिकारी रावेंद्र सिंह संविदाकर्मी को पवई थाने ले गए तथा राजस्व निरीक्षक उमाशंकर यादव के साथ पुलिस बल विद्युत उपकेंद्र पर तैनात कर दिया।

*जीयनपुर* : विद्युत उपकेंद्र पर उपखंड अधिकारी कार्यालय में ताला बंद रहा। यहां रात 12 बजे से आपूर्ति बाधित है। 
*फूलपुर* : उपकेंद्र पर पुलिस बल तैनात किया गया है। पानी के लिए इंडिया मार्का हैंडपंप सहारा बना है। 
*लालगंज* : रविवार दोपहर बाद से ही सप्लाई बंद कर दी गई।

Post a comment

0 Comments