आजमगढ़ में जमीन पर अवैध कब्जा हटाने गई राजस्व की टीम पर पथराव, एसडीएम और एसओ मौके पर पहुंचे : Azamgarh Latest News

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले में आवंटित जमीन पर एक समाज के लोगों द्वारा वर्षों से किए गए अवैध कब्जे को हटवाने की कवायद शुरू की गई।



राजस्व विभाग की टीम की कार्रवाई शुरू होते ही हड़कंप मच गया। आक्रोशित लोगों ने राजस्व टीम पर पथराव कर दिया। राजस्व विभाग की टीम जमीन पर अवैध कब्जा हटाकर आवंटित व्यक्तियों को कब्जा दिलाने गई थी।

आजमगढ़ में जमीन पर अवैध कब्जा हटाने गई राजस्व की टीम पथराव

जिले के सरायमीर थाना क्षेत्र के खरेवां गांव में जिस जमीन पर मुसहरों का कब्जा है, वह जमीन गांव के ही चनरू, राजेश, लल्लन, सुरेंद्र यादव, महेंद्र यादव, धीरेंद्र यादव, विशाल आदि के नाम से सरकारी रिकॉर्ड में दर्ज है। 1976 में इन लोगों को यह जमीन आवंटित हुई थी। जिस पर कब्जा अब तक नहीं मिल सका था।


इसके चलते इन लोगों ने तहसील में इसकी शिकायत की थी। आवंटित जमीन पर अब तक कब्जा न मिलने की जानकारी पर तहसीलदार सर्वेश कुमार गौड शनिवार को जेसीबी व राजस्व विभाग की टीम के साथ अवैध कब्जा हटवाने पहुंच गए। जमीन पर कई मुसहर व वनवासी परिवार टीनशेड, छप्पर आदि डाल कर रहते हैं।

जिस समय टीम पहुंची उस समय ज्यादातर परिवार काम पर निकल चुके थे। टीम ने मौके पर पहुंचते ही अवैध कब्जो को हटवाना शुरू कर दिया। आशियाना उजड़ने की जानकारी होते ही मुसहर व वनवासी समुदाय के लोग काम से लौट आए और राजस्व विभाग की टीम के खिलाफ मोर्चा खोल लिया।

लोगों ने राजस्व विभाग की टीम पर ईंट-पत्थर चलाना शुरू कर दिया। स्थिति तो यह हो गई कि तहसीलदार को अपनी गाड़ी में बैठ कर भागना तक पड़ा। घटना की जानकारी होते ही एसडीएम राजीव रतन, एसओ सरायमीर अनिल सिंह मय फोर्स मौके पर पहुंच गए। एसडीएम के समझाने पर मुसहर समाज के लोग शांत हुए। इसके बाद राजस्व विभाग की टीम ने नए सिरे से नापी शुरू किया। देर शाम तक राजस्व विभाग की टीम के साथ ही ग्रामीण मौके पर जुटे रहे।

Post a comment

0 Comments